Dukh aur musibat ke bhavsagar main

0 1,726

दुःख और मुसिबत के भवसागर मे
विश्वास की नैया को खेते हुवे
पहुँचूगा अन्नंत घर में अपने
विश्राम करुंगा प्रभु संग में

यात्रा करुंगा क्रूस को देखकर
युद्ध करुंगा यीशु के खातिर
मेरा ये जीवन मेरी हर सांस
मुक्तिदाता पे कुर्बान ….

-advirtisement-

-advirtisement-

Related Posts
1 of 5

Translated by : Wilson George
Original Lyrics : Annamma Mammen
Original Music : Annamma Mammen

Leave a comment